Tuesday, 5 February 2019

ढूढ़ता है बेहद ख़ामोशी से तुझे


किस खत में रखकर भेजूं 
अपने इस बेबस इंतजार को 
बेजुबां है मेरा इश्क 
ढूढ़ता है बेहद ख़ामोशी से तुझे